anurag

How to Choose Career after 10th & 12th.

अभी जल्दी ही 10th और 12th के परिणाम आएं हैं. 10th और 12th के बाद आगे का करियर चुनना विद्यार्थियों के लिए और उनके माँबाप के लिए बहुत बड़ी समस्या होती है. क्यों की आज के समय में उन लोगों की संख्या बहुत बड़ी है जिन्होंने समय पर अपने करियर को सही दिशा नहीं दी और बाद में गलत प्रोफेशन में जाके पश्चाताप कर रहें हैं या मनपसंद नौकरी न पाने से सिर्फ दिन गिन रहें हैं.

I hope you enjoyed this topic and surely will adopt this in your life while choose your career., ये topic बहुत ही महत्वपूर्ण है क्यों की इसमें आपके Parents की भी कुछ expectations होती है, आपके भी कुछ plan होते हैं अपने भविष्य को लेकर और करना वो होता है जो दोनों के desire को पूरा करते हुए (थोड़ाबहुत) आगे चल के आर्थिक दृष्टि से भी गलत निर्णय न साबित हो.

अधिकांश परिवारों में पहले से ही घर का ऐसा माहौल होता है की बच्चे को आगे चल के ये बनना है, कुछ बच्चे अपने दोस्तों से प्रभावित होकर उनका ही career खुद के लिए चुन लेते हैं, कुछ लोगों के यहाँ उदाहरण होता है जैसे की परिवार में या रिलेशन में किसी ने कुछ किया है और वो अपने life में success हैं तो आपको भी वही करना है या बहुत सारे पेरेंट्स अपने बच्चों से पूछते हैं बताओ आपको क्या करना है तो बच्चों के पास भी कोई जवाब नहीं होता है की क्या करना है.

हम कुछ भी करने का सोचे या करना शुरू करने से पहले हमको ये सोचना चाहिए की मैं इस काम को क्यों शुरू कर रहा हूँ और इसको आगे कहाँ तक कर पाउँगा।

जब हम कोई भी विषय चुनते हैं तो हमको ये भी सोचना होगा की इसमें आगे चल के क्या पढ़ना है, कहाँ पढ़ना है, इस क्षेत्र में शिखर तक कैसे पहुचें, top कॉलेज में admission कैसे होगा। और किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए कड़ी मेहनत और समर्पण होना अनिवार्य है वो कितना है हमारे अंदर, क्योंकि हो सकता हैं की हम बहुत मेहनती हो और मन में पूरा विश्वास हो की चाहे जितना मेहनत करना पड़े हम कर लेंगे लेकिन वो मेहनत सही दिशा में किया जाना चाहिए, क्योंकि अगर मेहनत सही दिशा में न किया जाये तो पूरी मेहनत बेकार जाती है. ऐसे बहुत सारे उदाहरण हैं हमारे आसपास जो पूरी जिंदगी बहुत मेहनत किये हैं लेकिन सफलता नहीं मिली।अपनी मेहनत को सफल बनाने के लिए सबसे पहले सही दिशा होना बहुत जरुरी है. अगर आपका success एक तरफ हो और आप दूसरी तरफ पूरी जान लगा के भी दौड़ लगा दो तो भी असफल ही रहोगे।

ये हमको तय करना है की हमारी सही दिशा किधर है, हमको किधर भागना है जिधर सब भाग रहे हैं उधर या जो हमारे लिए सही दिशा हो. हो सकता है जिधर सब भाग रहे उसमे से कुछ के लिए सही दिशा हो लेकिन मेरे लिए गलत.

anurag

खुद से सवाल करें, झूठ न बोलें

अब सबसे बड़ा सवाल यह है की हमारे लिए कौन सी दिशा सही है ये कैसे तय करें? कौन सा subject choose करना हमें सही रहेगा? इसके लिए हमें अपने आप से सवाल करना है. यह बहुत ही मुश्किल काम है और उससे भी मुश्किल काम है सच्चाई को स्वीकार करना। क्योंकि हम किसी से भी पूछेंगे कि MBBS हो जायेगा?- हो जायेगा, M.Tech निकल लोगे?- हाँ निकल लेंगे, सिविल सर्विसेस परीक्षा निकल जाएगी?-हाँ निकल जाएगी। हम ऐसा बोल के खुद को और अपने parents को धोखा ही दे रहे होते हैं और बाद में जब नहीं निकल पता तो सब दोष भगवान के ऊपर डाल देते हैं की अपनी किस्मत ही नहीं अच्छी लिखी है ऊपर वाले ने.

हमको ये देखना होगा की हमारा Concentration, strength, skills, Interest किसमे है. और हमको ये भी सच्चाई से स्वीकार करना पड़ेगा की हम जो करने जा रहे हैं उसके comparison में हमारा background, अभी तक का Education level, Understanding Power कहाँ तक है.

किसी में सफलता प्राप्त करने के लिए Concentration, dedication, focus, hard work & interest होना बहुत जरुरी है. क्योंकि आपके अंदर potential भी है उसके बावजूद आपमें वो concentration & focus नहीं है तो आप fail हो जायेंगे। Concentrate होने के लिए आपका उस subject में interest होना बहुत जरुरी है क्योंकि अगर आपका interest है तो concentrate करने में ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती। हमको movie देखने में, game खेलने में या कही घूमने जाने में कुछ याद नहीं करना पड़ता अपने आप ही दिमाग में बस जाता है क्योंकि वहां पर हमारा interest होता है. इसलिए सबसे पहले हमको ये सोचना है की हमारा कौन से subject में interest है. और यही बात खुद से कहनी है और अपने पेरेंट्स से भी कहनी है क्योंकि अगर आपका interest Biology में है या commerce में हैं और आपके parents आपकोmaths लेने का बोल रहे हैं या Civil engineering में जाने को बोल रहे हैं तो आपके fail होने के 99% chance हैं. यही बात आपको अपने parents से बोलनी है की अगर आपको भेजना है तो भेज दो लेकिन आपके पैसे डूबेंगे और मेरा भविष्य ख़राब होगा.

 

Know your Power, Interest & Strength

हमारे अंदर कितनी power है, हमारा strength कितना है या हमारी skills किसी subject को लेकर कितनी है या हमें interest किसमे है ये हमसे ज्यादा न हमारे माँबाप जानते हैं, न दोस्त और न ही रिश्तेदार। तो हमको खुद ही अपना भविष्य तय करना है क्यों की 10th और12th के बाद ही हमारे भविष्य का निर्धारण हो जाता है की हमको कौन से direction में आगे बढ़ना है. इसलिये ये बहुत ही निर्णायक समय होता है तो पूरे सूझबूझ से, सोचसमझ के ही निर्णय लेकर आगे बढ़ना है. क्योंकि इस समय किसी के प्रभाव में आकर गलत निर्णय लेने से पूरी जिंदगी आपको उसी को सँभालने में निकल जायेगा फिर आगे मौका नहीं मिलेगा की इसको सुधार लें.

कोई आदमी सभी चीज में पारंगत नहीं हो सकता लेकिन किसी न किसी चीज में जरूर पारंगत होता है, हुनरमंद होता है तो अपने अंदर के हुनर को पहचानिये। क्योंकि आज कल के समय में नौकरी करना ही अपना लक्ष्य मत रखिये नौकरी के अलावा भी बहुत सारे विकल्प होते हैं सफल होने के. अगर आपके पास खुद का कोई बिज़नेस प्लान है तो उस पर कार्य करिये, क्योंकि अगर उसमे आपका interest है तो जरूर आप कुछ न कुछ innovative करेंगे जो आपको सफलता की उचाईयों पर ले जायेगा। 10th और 12th के बाद किसी professional course में भी आप जा सकते हैं बजाय रूढ़िवादी विचारधारा के की अब 10th हो गया अब 12th करना है, अब 12th हो गया तो अब graduation करना है. skills Develop करिये अपने अंदर। आज कल केवल डिग्रियों के दम पर आदमी success नहीं होता। IQ Level, awareness, learning skills और भी बहुत सारी चीजे है जिस पर ध्यान देने की जरुरत होती है.

“How to choose career after 10th & 12th” I hope you enjoyed this topic and surely will adopt this in your life while choose your career.

4
1

By Anurag

4 thought on “How to choose your career after 10th & 12th”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *