स्वर्गद्वारी प्रभुनाथ बाबा एक प्रसिद्ध तीर्थस्थल है. ये Pyuthan District, Nepal में है. स्वर्गद्वारी नेपाल के शीर्ष तीर्थस्थलों में आता है और सांस्कृतिक और ऐतिहासिक धरोहरों की राष्ट्रीय सूची में आता है.

बाबा प्रभुनाथ नेपाल में दोस्तों के साथ जून 2019 में जाने का अवसर प्राप्त हुआ हालांकि पैदल और बाइक से कुल चार बार यात्रा कर चुका हूँ पर इस बार का अनुभव शेयर कर रहा हूँ। मेरे शहर उतरौला से वहां तक जाने के अनेक साधन मौजूद हैं परंतु हम लोगों ने बाइक के माध्यम से जाने का निर्णय लिया रात भर सुबह के रोमांच में बीता सुबह 5:00 बजे हम चार लोग दो बाइक से यात्रा पर रवाना हुए दुर्गम पहाड़ियों की हरीभरी मनमोहक छटा को देखते हुए टेढ़े मेढ़े रास्तों से हम लोग बाबा प्रभु नाथ का दर्शन करने चल दिए और दोपहर 2 बजे तक गंतव्य पर पहुँच गये।

नेपाल के कृष्णा नगर बॉर्डर से हम लोग बाइक का भंसार करवा कर अंदर प्रवेश किए और चन्द्रौटा, भालूबांग से भिंगरी होते हुए स्वर्गाद्वारी तक की यात्रा तय की जहां तक बाइक जा सकती थी हम लोग ले गए उसके बाद एक पहाड़ पैदल यात्रा करनी पड़ती है पूरा रास्ता जबरदस्त ऊंचाइयों हरियाली मनमोहक छटा जगहजगह खूबसूरत झरने मंदिर आदि से भरे पड़े हैं जहां भी रुक जाओ मन करता है बस यहां से आगे ना बढ़ा जाए.

swargdwari

बाबा प्रभुनाथ स्वर्गद्वारी का महत्त्व एवं मान्यता

बाबा प्रभुनाथ के बारे में अनेक कथाएं प्रचलित हैं उनमे से एक ये है की बाबा प्रभु नाथ इसी कलयुग में थे और वह भगवान शिव के अनन्य भक्त थे बहुत कठिन तपस्या करते थे भगवान भोलेनाथ की, इस सांसारिक मोह माया से दूर होकर वह उस पहाड़ पर नेपाल में जाकर विराजमान हो गए तत्पश्चात भगवान शिव ने साक्षात इस कलयुग में आकर उनको दर्शन दिया था उसके बाद से बाबा प्रभुनाथ भी ब्रह्मलीन हो गए और फिर किसी को दिखाई नहीं दिए मान्यता है कि वहां पर जो भी मुरादे मांगी जाती हैं जो भी प्रार्थना की जाती हैं वह पूरी अवश्य होती हैं बाबा के मुख्य स्थान पर भगवान शिव का एक शिवलिंग ही है जिसकी पूजा अर्चना की जाती है बाबा मूर्ति रुप में है उनकी भी पूजाअर्चना की जाती है उनके मुख्य स्थान से एक पहाड़ नीचे उतरकर स्वर्गद्वारी जल मिलता है जिसको शिवलिंग पर अर्पित करके पूजा अर्चना की जाती है उस जल को गंगा जल के समान पवित्र माना गया है वह जल भी कितना भी समय रखे रहो खराब नहीं होता है ना उसमें कीड़े पड़ते हैं वह एक कुंड से आता है यदि उसमें किसी प्रकार का गंदा जल या कोई व्यक्ति चप्पल पहन कर चला जाता है तो कुंड का पानी नीचे हो जाता है फिर कुछ समय बाद जल पुनः धीरेधीरे ऊपर आ जाता है लोग उसी में स्नान करते हैं और जल भरकर ऊपर लाते हैं ऐसी मान्यता है कि इस पवित्र जल मे स्नान करने से अनेक रोगों से मुक्ति मिलती है इसी जल को भगवान भोलेनाथ के लिंग स्वरूप पर चढ़ाते हैं दर्शन के उपरांत सूखे नारियल एवं पंजीरी का प्रसाद प्राप्त होता है तथा भगवान पर चढ़ा लाल कपड़ा भी प्रसाद के रूप में प्राप्त होता है जिसे भक्त माथे पर बांधते हैं।माथे पर बांधने पर असीम सुख की प्राप्ति होती है.

jitendra
Jitendra

दूसरी मान्यता के अनुसार इसकी स्थापना गुरु महाराज नारायण खत्री (स्वामी हमसानंद) ने की थी. उन्होंने अपना पूरा जीवन आसपास के गायों के पालनपोषण में लगा दिया था. प्राचीन लोगों के अनुसार वह इस स्थान पर आये और जमीन के मालिक को बताया की इस जगह पर पाण्डवों ने स्वर्ग जाने से पहले यहाँ पूजा किया था. उन्होंने वह जमीन भी खोदी और वहां से दही मिश्रित चावल निकाला और आग भी निकलने लगा. उन्होंने बताया की द्वापर युग में पाण्डवों ने ये चीजें यहाँ दबायी थी, यह सब सुनकर जमीन का मालिक जमीन देने को तैयार हो गया. तब से वो अग्नि अभी तक जल रही है वहां और उस अग्नि के राख से तमाम शारीरिक रोगों में आराम मिलता है. समय बीतता गया, कुछ समय बाद अपनी इच्छा शक्ति से उन्होंने अपना शरीर त्याग दिया और कुछ समय पश्चात् ही उनके द्वारा पाली गयी गायें भी चमत्कारिक रूप से गायब हो गयी.

पशुपतिनाथ की तरह महत्त्व

जिस प्रकार भगवान भोलेनाथ का एक मंदिर पशुपतिनाथ नेपाल के काठमांडू में स्थापित है जितनी मान्यता उसकी है उतनी ही मान्यता भगवान भोलेनाथ के इस मंदिर प्रभुनाथ स्वर्गद्वारी का भी नेपाल में है अधिकतर वहां भारत के नागरिक दर्शन करने जाते हैं भारत के सीमावर्ती गांव और शहर से लोग वहां पर दर्शन करने जाते हैं भारत के लोगों में भी बाबा प्रभुनाथ स्वर्गद्वारी के प्रति असीम श्रद्धा एवं मान्यता है तमाम साधन से लोग वहां जाते जाते रहते हैं कोई बाइक से जाता है कोई पैदल जाता है कोई बस से जाता है कुछ दूर तक बस के भी संसाधन मौजूद हैं बस नेपाल के अंदर ही चलते हैं भारत से नेपाल बॉर्डर तक किसी भी यातायात साधन से जाया जाए उसके बाद वहां से बस से जा सकते हैं बाबा प्रभु नाथ जाने के दो रास्ते हैं. भालूबांग से एक रास्ता घोराही हो कर और एक रास्ता भिंगरी होकर जाता है भिंगरी की तरफ से दूरी 13 किलोमीटर पड़ती है परंतु चढ़ाई बहुत कठिन है और घोराही की तरफ से दूरी 65 किलोमीटर लगभग है परंतु चढ़ाई थोड़ा कम है.

मनोरम सुंदर रमणीक स्थल

आस्था का प्रतीक बाबा प्रभु नाथ मंदिर बहुत ही रमणीक सुंदर और हरेभरे पहाड़ी पर स्थित है वहां तक पहुंचने के लिए पैदल यात्रा की जाती है लगभग डेढ़ घंटे लगते हैं पैदल जाने में परंतु वहां पहुंचकर मन को असीम शांति का अनुभव प्राप्त होता है चारों तरफ हरेभरे पहाड़ और आते जाते बादलों को देखकर मन को असीम सुख की अनुभूति होती है मईजून की तपती गर्मी में भी वहां पर ठंड का एहसास होता है गर्मी और पसीना बिल्कुल नहीं होता है और रात में आप बिना कंबल या रजाई के सो नहीं सकते हैं आप दर्शन के बाद वहां बने कॉटेज में रुक सकते हैं परंतु पहले से रजिस्ट्रेशन कराना होगा वहां पहुंचते ही वहां पर भोजन का टोकन जमा हो जाता है वहां आपको शुद्ध दाल चावल सब्जी रोटी आदि खाने को उपलब्ध हो जाता है.

स्वर्गद्वारी प्रभुनाथ बाबा

जाने के लिये समय एवं जरुरी कागजात

भारत से नेपाल जाने के लिये Border सुबह 6 बजे से सायं 7 बजे तक खुला रहता है यदि पैदल Border क्रॉस करते हैं तो कोई भी फोटो युक्त पहचानपत्र काफी है यदि अपने यातायात साधन से जा रहे हैं तो गाड़ी के सभी कागजात पूरे होने चाहिए और गाड़ी पूरी तरीके से maintain होनी चाहिए जैसे की indicator, parking light, hand break, side mirror सभी working condition में होना अनिवार्य है. Border पर जरूरी कागजात दिखा कर और शुल्क जमा करके भंसार पेपर लिया जा सकता है और आप जब तक नेपाल border से बाहर नहीं आ जाते वापस तब तक आपको सम्भाल के रखना है.

लखनऊ से कैसे जायें

लखनऊ से ट्रेन या बस से बढ़नी तक जा सकते हैं जो कि एकदम Border के सामने दोनो स्टेशन है Border पैदल पार कर के नेपाल का पहला शहर कृष्णा नगर मिलता है वहां से नेपाली बस एवं टैक्सी ले कर बाबा प्रभुनाथ के दर्शन को जा सकते हैं।

यदि लखनऊ से अपने कार या बाइक से जा रहे हैं तो गोंडा, बलरामपुर, तुलसीपुर से बढ़नी के रास्ते जा सकते हैं।

I hope you really enjoyed this post and will make plan once to visit there.

Thank You so much!

Jitendra Kumar Srivastava

28 thought on “स्वर्गद्वारी प्रभुनाथ बाबा”
  1. Hey! This is my first visit to your blog! We are a group of
    volunteers and starting a new project in a community in the same niche.
    Your blog provided us valuable information to work on. You
    have done a outstanding job!

  2. This is a topic which is close to my heart… Cheers!
    Exactly where are your contact details though? It’s
    perfect time to make some plans for the longer term and it’s time to be happy.
    I have learn this put up and if I could I
    desire to counsel you few fascinating things or advice. Maybe you can write subsequent articles regarding this
    article. I wish to read more things approximately it!
    I’ve been surfing on-line more than 3 hours as of late, yet I never discovered any
    interesting article like yours. It is beautiful value enough for me.

    Personally, if all website owners and bloggers made good content material
    as you probably did, the web will be much more useful than ever
    before. http://Porsche.com/

    Feel free to visit my webpage; Kristen

  3. I think that is one of the most important info for me.
    And i am satisfied reading your article. However should observation on few
    normal issues, The web site style is perfect, the
    articles is in reality great : D. Excellent job, cheers

  4. What i don’t understood is in reality how you’re not really a lot more neatly-preferred than you
    might be right now. You are very intelligent.
    You realize thus significantly when it comes to this subject, produced me
    for my part imagine it from so many various angles.
    Its like men and women don’t seem to be involved except it’s
    one thing to accomplish with Lady gaga! Your individual stuffs
    nice. Always care for it up!

  5. Hi! This is kind of off topic but I need some help from an established blog.
    Is it very hard to set up your own blog? I’m not very techincal but I
    can figure things out pretty quick. I’m thinking about making my own but I’m not sure where to
    start. Do you have any points or suggestions?
    Appreciate it

  6. Hello there, I discovered your website by means of Google while
    searching for a related subject, your website
    got here up, it appears to be like great. I’ve bookmarked it in my
    google bookmarks.
    Hi there, simply changed into alert to your blog via Google,
    and located that it’s truly informative. I am gonna watch out for brussels.
    I will be grateful if you continue this in future.
    Numerous other folks will probably be benefited out of your writing.
    Cheers!

  7. Hello there! I know this is kinda off topic but I’d figured I’d ask.
    Would you be interested in exchanging links or maybe guest authoring a blog article or
    vice-versa? My website addresses a lot of the same topics
    as yours and I think we could greatly benefit from each other.
    If you’re interested feel free to shoot me an email. I
    look forward to hearing from you! Great blog by the way!

  8. Its such as you learn my mind! You seem to know a lot approximately this, like you wrote the book in it or something.
    I think that you simply can do with a few % to force the message home a bit, however other than that, that is great
    blog. A great read. I will definitely be back.

  9. certainly like your website however you have to take a look at the spelling on quite a few of your
    posts. A number of them are rife with spelling problems and I to find it very troublesome to tell the truth nevertheless I’ll surely come again again.

  10. I really like your blog.. very nice colors & theme.
    Did you create this website yourself or did you hire someone to do it for you?
    Plz answer back as I’m looking to create my own blog
    and would like to find out where u got this from.
    many thanks

  11. Simply desire to say your article is as amazing.
    The clearness in your post is just great and i could assume
    you are an expert on this subject. Fine with your permission allow me to grab your RSS feed to keep updated with forthcoming post.
    Thanks a million and please keep up the rewarding work.

  12. Great post. I was checking constantly this blog and I’m impressed!
    Extremely helpful info particularly the last
    part 🙂 I care for such info a lot. I was seeking this particular information for
    a very long time. Thank you and best of luck.

  13. I am extremely impressed along with your writing talents as neatly
    as with the layout to your blog. Is this a paid subject
    or did you modify it yourself? Either way keep up the excellent quality writing, it is rare to look a great blog like this one nowadays..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *